Lockdown Period में Students कैसे करें Time का सही इस्तेमाल

1
925
Corona Prevention

Lockdown Period के टाइम में जब सबकुछ थम गया है, Students के पास यह अच्छा मौका है अपनी Skills को Recover करने का. तो आइए जानें कुछ Tips , जिस से आप बिना बोर हुए अपने कोर्स और सिलेबस के साथ ही अपने बाकी Skills को भी Recover कर पाएंगे.

Corona संक्रमण से बचने के लिए आज देश ही नहीं लगभग पूरी दुनिया Lockdown Period का पालन कर रही है. इस वजह से School, कालेज, संस्थान और सभी एजुकेशनल एक्टिविटीज बंद हो गई हैं. इस स्थिति से निबटने के लिए छात्रों को चाहिए कि वे खुद का ध्यान रखने के साथ साथ अपनी पढ़ाई को भी जारी रखें.

Time को  सही जगह खर्च करें

Time को  सही जगह खर्च करें-Time is money

Lockdown Period में अपनी कमजोर Skills को Recover करने के लिए इस वक़्त आप के पास समय ही समय है, बस, जरूरत है समय का सही इस्तेमाल  करने की. ऐसे में छात्र अपने ऐसे पहलुओं पर ध्यान दें, जो उन्हें कमजोर लगते हैं. छात्र ऐसी किसी Language पर अपनी पकड़ को इस दौरान मजबूत बना सकते हैं, जिस में वे अपने आप को कमजोर समझते हैं या फिर वे छात्र जो प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, अपनी Maths, English, Reasoning,  Current Affairs आदि विषयों पर अपनी पकड़ को मजबूत बना सकते हैं.

विषय से हट कर पढ़ने का मौका

जो Studens School या कालेज में पढ़ रहे उन पर सिलेबस को पूरा करने का ही बोझ इतना होता है कि वे बाकी विषयों के बारे में जान ही नहीं पाते. ऐसे में यह Lockdown Period छात्रों को उन के Subject से हट कर पढ़ने का भी मौका दे रहा है. छात्रों को चाहिए कि वे समय का सदुपयोग करें और किसी ऐसेSubjectके बारे में पढ़ें जिन से अब तक वे अछूते रहे हों. जैसे किसी ऐसे साहित्यकार या शख्सियत के बारे में जानें जो आप के कोर्स में न हो. ऐसी ही कोई नई भाषा को सीखने का विचार बनाएं या कोई कहानी या कविता की किताब पढें.

अपनी Skills को Recover करें

skills

Lockdown के समय जब सबकुछ थम सा गया है, तब Students के पास यह अच्छा मौका है अपनी Skills को Recover करने का. तो आइए, आप को बताते हैं कुछ टिप्स जिन से आप बोर हुए बिना अपने कोर्स और सिलेबस के साथ ही अपनी बाकी Skills को भी Recover कर सकते हैं.

Lockdown के बाद की जिंदगी

Online Courses का सहारा लें

Lockdown Period के दौरान जब Students और टीचर्स के बीच दूरियां बढ़ी हैं, इस समय इंटरनैट काफी सहायक सिद्ध हुआ है. टीचर्स को सलाह दी गई है कि वे वीडियो कौन्फ्रेंसिंग के जरिए छात्रों से जुड़ें और उन की मदद करें. लेकिन ऐसे में हो सकता है कि छात्रों को टीचर्स से इतना सहयोग न मिल पाए तो वे Online एजुकेशनल एप्स जैसे बाईजूज लर्निंग ऐप, अनअकैडमी, यूट्यूब चैनल्स या साइट्स का सहारा ले सकते हैं.

छात्र Online कोर्सेस पर न करें फालतू पैसे खर्च

online courses

युवाओं को इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि बढ़ते Lockdown Period के कारण पेरैंट्स को आर्थिक स्थिति का भी सामना करना पड़ सकता है, इसलिए Online कोर्स में ज्यादा रुपए खर्च न करें. यदि Lockdown आगे बढ़ा तो परिवार के सामने 1-2 महीने में आर्थिक संकट आ सकता है. हां, यदि आप को इस दौरान कहीं वौलंटियर बनने का मौका मिले तो इस में हिस्सा ले सकते हैं. वौलंटियर बनने में खतरा तो है, लेकिन लाभ भी काफी होगा.

मानव संसाधन मंत्रालय कर रहा Students की मदद

भारत सरकार के University Grants Commission(यूजीसी) ने अपने समय का सदुपयोग करने के लिए छात्रों और शिक्षकों के लिए 10 Online शिक्षण पाठ्यक्रम जारी किए हैं. एमएचआरडी, यूजीसी और इस के अंतर विश्वविद्यालय केंद्रों की अन्य पहलों के साथ सूचना और पुस्तकालय नैटवर्क और कंसोर्टियम फौर एजुकेशनल कम्युनिकेशन ने अपने Online पाठ्यक्रम जारी किए हैं. ये चैनल हैं : SWAYAM, e-PG Pathshala, National Digital Library. इन सभी पोर्टलों पर ग्रैजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्सेस की डिजिटल सामग्री उपलब्ध है. इस पोर्टल पर यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त कई कोर्स भी मिल जाएंगे.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here