भारत में Cycolne का डर :cyclone in India

0
15
cyclone

चक्रवाती तूफान एक अत्यधिक शक्तिशाली आवारा हवाओं का घूर्णवाती प्रवाह होता है जो भूमि के ऊपरी तापमान की वजह से उत्पन्न होता है। यह आकार में बड़े और छोटे विस्तारों में हो सकते हैं और बहुत ही तेज़ वेग से चलते हैं। Cyclone नाम संघटित क्षेत्र पर आधारित होता है, जहां वायुमंडल में नीचे खींची जाने वाली आवाज एक मध्यवर्ती निकटता उत्पन्न करती है और इससे एक आकार में समन्वित विकीर्ण हवाएं बनती हैं।

साइक्लोन (Cyclone) एक प्रकार का प्राकृतिक आपदा होती है जो समुद्री क्षेत्रों में उच्च वेग वाले हवाओं के गतिशीलता के कारण उत्पन्न होती है। ये तब उत्पन्न होते हैं जब गर्म समुद्री पानी के माध्यम से वाष्पित होकर वायुमंडलीय दबाव पैदा करते हैं और उसमें घूमते रहते हैं। साइक्लोन के द्वारा पैदा किए जाने वाले हवाओं की चक्रवाती गति के कारण इसे “साइक्लोन” कहा जाता है।

Cyclone आमतौर पर समुद्री क्षेत्रों में उत्पन्न होते हैं, जहां ऊपरी तापमान, ऊंचाई, और नमी सामरिक मामलों के कारण गर्म वापों की ऊष्मा के साथ संघटित होते हैं। जब गर्म वायु उच्च तापमान क्षेत्रों की ओर चलती है, तो यह नमीभर्ती होती है और तेजी से ऊंचाई प्राप्त करती है। यह तेजी से घूमने लगती है और एक आवारा हवा के रूप में विकसित हो जाती है।

साइक्लोन में वायुमंडलीय दबाव कम होता है, जिससे आवारा हवा आकार बढ़ाती है और तेजी से चलती है। इसके साथ ही, साइक्लोन के विभिन्न भागों में दबाव अंतर से पैदा होने वाले बादल, बिजली, और वृष्टि के कारण मौसमी परिवर्तन होता है। साइक्लोन जोन में वृष्टि की मात्रा बहुत अधिक होती है, जिससे अधिक वृष्टि यानी बाढ़ के कारण जलभराव, बाढ़, और उच्चालन आदि बड़ी समस्याएं पैदा हो सकती हैं।

जिंदगी में चुनौती का सामना कैसे करें

Cyclone In India: 25 सालों में भारत में 6 बड़े तूफान, चक्रवात बिपरजॉय से गुजरातियों को याद आया 1998 का वो मंजर

Cyclone Alert भारत के तटों पर पहुंचे तूफानों के बारे में बात करें तो भारत के इतिहास में सबसे खतरनाक तूफान 1998 में आया था जिसने भयंकर तबाही मचाई। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here